When everything fails on Earth…

The planet's largest companies today are the technology companies.  Everything is based on technology and networks.  From your banks to education to jobs to even basic food being delivered now.  In fact, the Internet of Things is making…

काव्य संग्रह “चटकते कांच-घर”: एक अवलोकन

शब्द और दर्शन एक कवि की अभिव्यक्ति के सबसे महत्वपूर्ण सहयोगी होते हैं। अमित अग्रवाल जी की यह काव्य संग्रह "चटकते कांच-घर" उनके मन की संवेदना का एक दर्पण है। हिंदी में लिपटी उर्दू शायरी की शैली लेकर अमित जी ने कुछ गहरे विचारों से…